What is Bitcoin Mining or Crypto Mining: बिटकॉइन मिंनिंग क्या है और कैसे करें ? - CryptoIdea.online

 
CryptoIdea.Online

बिटकॉइन मिंनिंग क्या है और कैसे करें ?

आप जानते होंगे दिन प्रति दिन Bitcoin का मूल्य धीरे धीरे बढ़ता ही जा रहा है. जिसके पास अगर आज बिटकॉइन है तो वह आज माला माल हो रहा है.

अपने तो बहुत सुना है बिटकॉइन के बारे में क्या कभी अपने सोचा है बिटकॉइन आते  कहा से हैं. यह एक दूसरे के पास जाता कैसे है. सोचने वाली बात है बिना किसी बैंक की मदद से या एजेंसी की मदद से यह एक दूसरे के पास पहुँचता कैसे है.


इस बारे में अगर आपको पता है तो अच्छी बात है अगर नहीं जानते हैं तो चिंता करने की कोई जरुरत नहीं है. नहीं जानते हो तो इस आर्टिकल को लास्ट तक जरूर पड़े. हम आपको बतायेह्गे की बिटकॉइन या अन्य क्रिप्टो काम किस प्रकार करती है.  जिस प्रद्धति में बिटकॉइन काम करती है उसे बिटकॉइन माइनिंग कहते हैं. 

पिछले साल चीन में क्रिप्टों माइनिंग पर पाबंदी लगा दी गई.  जिसे सम्पूर्ण फ़ायदा कजाखिस्तान को सीधे तोर पर होने लगा. चुकीं वहाँ  की सरकार बिटकॉइन माइनिंग के हीत पर है.  साथ ही वहां की बिजली दर भी भारत की तुलना में कम हैं.


क्या होती हैं बिटकॉइन माइनिंग ? -CryptoIdea.online

साधारणता माइनिंग का नाम सुनते ही सबसे पहले सोने, हीरे या कोयला जैसे वस्तु का ख्याल दिमाग़ में आता है,
जैसे की इनकी खुदाई की जाती है.जबकि क्रिप्टो माइनिंग या बिटकॉइन माइनिंग में हमें मिट्टी की खुदाई नहीं करनी होती है. हम तो इस बात को जानते है की क्रिप्टोकोर्रेंसी एक डिजिटल एसेट या संपत्ति है.  इसका अस्तित्वा भी केवल मात्र ऑनलाइन ही है. Crypto Mining Kya hai Hindi Mei Jane.

क्रिप्टों  माइनिंग बाकि सभी माइनिंग से बिलकुल अलग होती हैं.  क्रिप्टों कॉइन के किसी भी Transection   (अन्तरिक) को पूरा करने की पुरे Process को क्रिप्टों माइनिंग कहा जाता है.  चुकी सारे क्रिप्टों करेंसी की श्रेणी में बिटकॉइन सबसे पुराने और चर्चित है इसलिए इसे कुछ लोग बिटकॉइन माइनिंग भी कहते हैं.


क्रिप्टों माइनिंग या बिटकॉइन माइनिंग में दो चीजें आती हैं. एक नए ट्रांसक्शन को Block Chain में Add करना तथा नए तैयार हुए बिटकॉइन को Block Chain में रिलीज़ करती है.  
इसमें सबसे मुख्य काम होता है Recent ट्रांसक्शन को Block चैन में शामिल करना.  वैसे ये Process सुने में जितना सहज लग रहा है उतना है नहीं.  हर टांसेक्शन को पूरा करने से पहले एक Cryptographic Puzzle को Solve करना होता है.  यह Puzzle Coding टाइप में होती है. जो सिस्टम इस Puzzle को जल्दी Solve करती है उसे ही Transection को पूरा करने का मौका मिलता हैं. 

जब कोई Computer या Hardware Equipment इस ब्लॉक चैन के Cryptographic Puzzle को Solve करके Transection को पूरा करता है, तो उसे रिवॉर्ड के तोर पर कुछ कॉइन दिए जाते हैं. आप जिस कॉइन के ट्रांजेक्शन को पूरा करते हो आपको रिवार्ड के तौर पर उसके ही कुछ कॉइन प्राप्त होंगे. Crypto Mining In India 

Crypto Currency की दुनिया में Transection के लिए Crypto Miner or Bitcoin Miner बहुत ही ज्यादा जरुरी हैं. बिना Crypto Miner के किसी भी क्रिप्टों का ट्रांसेक्शन बिलकुल ही मुमकिन नहीं हैं.

क्या Crypto Mining / Bitcoin Mining से पैसे कमाए जा सकते हैं ?

 
अगर आपके मन में भी ये सवाल है तो इसका उत्तर बिलकुल ही Positive है. इसका मतलब हम क्रिप्टों की माइनिंग करके अच्छा ख़ासा रक़म कमा सकते हैं. जब हमारा System या Computer किसी भी Block Chain Transection को पूरा करता है तो हमे कुछ कॉइन रिवॉर्ड के तोर पर प्राप्त होते हैं.  जिसे हम बेच कर एक अच्छी रक़म बना सकते हैं. घर बैठे करें क्रिप्टों माइनिंग 

इसमें केवल मात्रा कुछ ही मिनटों में रिवॉर्ड को Earn कर सकते हैं. उसके अलावा जब भी हम किसी नए कॉइन को ब्लॉक चैन में रिलीज़ करते हैं तो उसमे भी हमें कुछ रिवॉर्ड प्राप्त होते हैं.   


[ जानने के लिए क्लिक करें :- Crypto Currency के बारे में विस्तार पूर्वक जाने ? ]

माइनिंग क्रिप्टोकोर्रेंसी को कैसे सुरछित रखता हैं  ?


Crypto Mining or Bitcoin Mining एक लॉटरी सिस्टम मॉडल के आधार पर काम करती हैं.  इसमें ये जरुरी नहीं है की हर बार एक ही सिस्टम को ब्लॉक चैन में ट्रांसेक्शन करने का मौका मिले. हर  ट्रांसेक्शन में अलग अलग़ System या Computer का चुनाव ट्रांसेक्शन को पूरा करने के लिए किया जाता हैं.  इस कारण से इस बात का पता लगा पाना बिलकुल ही मुमकिन नहीं है की कौन सा सिस्टम किस वक़्त ट्रांसेक्शन को कर रहा है.

CryptoCoin or Bitcoin को Secure तकीके से रखने के लिए अलग़ अलग़ System or Device प्रयोग Block Chain में टांसेक्शन को पूरा करने के लिए किया जाता हैं. इस प्रकार से Coin के लेन देन को पूरी तरीक़े से सुरछित रखा जाता है. बिटकॉइन माइनिंग का क्या मतलब है?

एक बार Block chain में  लेन देन  को पूरा करने के बाद Chain को रेफ्रेश कर दिया जाता हैं.  इस ब्लॉक चैन में दोबारा एंट्री करने के लिए आपको Security के तोर पर कई Puzzle को Solve करना होता है. इस कारण से ब्लॉक चैन किसी एक आदमी या यूजर के कण्ट्रोल में नहीं होता है. 

इन सब कारण से ही कोई व्यक्ति किसी भी ट्रांसेक्शन को हेर फेर नहीं कर सकता. इस Block Chain की वज़ह से कोई आपने ट्रांसेक्शन को रेवेर्स भी नहीं कर सकता. माइनिंग के चलते ही किसी भी लेनदेन को रिवर्स करने की अनुमति नहीं मिलती.

क्या आप बिटकॉइन माइनिंग कर सकते  हैं ?


क्रिप्टों करेंसी की शुरुआती दौर में बिटकॉइन को सबसे ज्यादा प्रसिद्धि मिल रही थी.  उस वक़्त बिटकॉइन नई होने के कारण लोगों का भरोसा भी नहीं था, इस तरह की संपत्ति पर तब इसकी माइनिंग केवल कुछ मात्रा Personals Computer या CPU के माध्यम से की जा रही थी.  उस समय किसी भी Block को Chain में आसानी से ख़ोज लिया जाता था.  परन्तु जैसे जैसे लोगों का भरोसा इस पर आता गया. लोग इस कॉइन के साथ ट्रेड करते गए. माइनिंग करने वालों की भी संख्या बढ़ती गई. इस कारण से किसी Block को Chain पर से Identify करना ज़टिल होता गया. यह पहले से और भी ज्यादा Secure और मुश्किल होने लगा. 

जैसे लोग क्रिप्टों या बिटकॉइन माइनिंग कर रहे हैं. उस तरह से आप भी एक कंप्यूटर और इंटरनेट की सहायता से बिटकॉइन माइनिंग कर सकते हैं. बिटकॉइन माइनिंग कैसे करते है हिंदी में  

आज के समय पर बहुत से अच्छे अच्छे कॉइन मार्किट में माइनिंग के लिए मौजूद हैं.  जिसे आप भी घर बैठे बैठे माइनिंग की शुरुआत कर सकते हैं.आज बाजार में बहुत से ऐसे ऐसे नए Advanced Specialized Hardware मिल जायेंगे. जिसकी सहायता से आप आसानी से Bitcoin माइनिंग का काम शुरू कर सकते हैं.

अगर देखा जाये तो यह थोड़ा Patience भरा काम है. इसके माइनिंग से ये जरुरी नहीं हैं की आप रातों-रात अमीर हो सकते हैं.  हर काम में कुछ न कुछ तो वक़्त लगता ही हैं. आपको थोड़ी बहुत मेहनत भी करनी पड़ेगी.  लेकिन आप धीरे-धीरे अमीर जरूर बन सकते हैं.  

क्या बिटकॉइन माइनिंग Energy or Time का वेस्ट हैं ?


मुझे क्रिप्टों माइनिंग में ऐसा नहीं लगता की किसी प्रकार का Energy और Time की बर्बादी हैं. जहाँ तक मेरा मानना है की इसमें किसी प्रकार का नुकसान नहीं हैं बल्कि कुछ हद तक अच्छा ही है.  क्यूंकि अगर हम ख़ुद गौर करें तो पाते हैं की हमारी इस माइनिंग की मदद से क्रिप्टों के किसी भी प्रकार के ट्रांसेक्शन को पूरा किया जाता है। इसमें की जाने वाली माइनिंग की मदद से ही हर ट्रांजेक्शन को P2P  Block Chain को सुचारु रूप से संचालित किया जाता हैं.  

जैसे की हम  जानते हैं की हर सेवा  के लिए कोई न कोई Payment सर्विस की ज़रूरत है.  अगर आप गौर करें तो पाएगा की उसमें आपको कुछ Service Cost के आधार पर कुछ रक़म आपसे लिए जाते हैं.  जो उस शक्ति और समय के बदले आपसे ली जाती हैं.  उसी तरह बिटकॉइन या क्रिप्टों के हर लेनदेन पर हमे भी कुछ न कुछ सर्विस कॉस्ट के तोर पर दिया जाता है.  अगर हम आज बैंक और क्रेडिट कार्ड सर्विस कॉस्ट को देखें तो यह बहुत ही ज्यादा लिया जाता है. लेकिन बिटकॉइन में जो सर्विस चार्ज है इसमें आपको बहुत कम देना पड़ता हैं.  परतु Miner को  मिलने वाली  रिवॉर्ड अच्छे  Value के होते हैं.  

कुछ इस प्रकार से  Bitcoin mining को  Design किया गया है ,  जिससे की जाने वाली Block चैन ट्रांसेक्शन को बिलकुल ही काम समय में पूरी की जा सके.आज जैसे बाज़ार में बहु शक्ति के Hardware आ चुके हैं जो इस काम को बहुत कम शक्ति और समय के साथं पूरा कर देते हैं. बिटकॉइन की डिमांड के साथ इसका माइनिंग कॉस्ट एक दम  Proportional होता है। अभी इस पर और भी कार्य चल रहे हैं जिससे की इस Energy को और भी कम किया जा सके.






टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

क्रिप्टोकरेंसी क्या है और CryptoCurrency कितने प्रकार के हैं ? - CryptoIdea.online

इंडिया की अपनी क्रिप्टों करेंसी कौन कौन सी है ? List of Indian Crypto Currency.